स्वच्छ भारत अभियान

दिनांक : 02/10/2014 - 02/10/2019 | सेक्टर: सरकारी क्षेत्र

सर्वव्‍यापी स्‍वच्‍छता के कवरेज के प्रयासों में तेजी लाने के लिए और स्‍वच्‍छता पर बल देने के लिए प्रधानमंत्री ने दिनांक 2 अक्‍टूबर, 2014 को स्‍वच्‍छ भारत मिशन की शुरूआत की थी। दो उप मिशन, स्‍वच्‍छ भारत मिशन (ग्रामीण) और स्‍वच्‍छ भारत मिशन (शहरी) के लिए मिशन समन्‍वयकर्त्‍ता पेयजल और स्‍वच्‍छता मंत्रालय के सचिव हैं। दोनों मिशनों का उद्देश्‍य महात्‍मा गांधी की 150वीं वर्षगाँठ को सही रूप में श्रद्धांजलि देते हुए वर्ष 2019 तक स्‍वच्‍छ भारत की प्राप्‍ति करना है। इससे ग्रामीण भारत में ग्रामीण क्षेत्रों में ठोस और तरल अपशिष्‍ट पदार्थ प्रबंधन की गतिविधियों के माध्‍यम से स्‍वच्‍छता के स्‍तरों में वृद्धि होगी और गांवों को खुले में शौचमुक्‍त (ओडीएफ), स्‍वच्‍छ तथा शुद्ध बनाया जाएगा।

विज़न

स्‍वच्‍छ भारत मिशन (ग्रामीण) का उद्देश्‍य दिनांक 02 अक्‍टूबर, 2019 तक स्‍वच्‍छ एवं खुले में शौच मुक्‍त (ओडीएफ) भारत की प्राप्‍ति करना।

उद्देश्‍य

  1. स्‍वच्‍छता, साफ-सफाई तथा खुले में शौच के उन्‍मूलन को बढ़ावा देकर ग्रामीण क्षेत्रों में जीवन की सामान्‍य गुणवत्‍ता में सुधार लाना है।
  2. ग्रामीण क्षेत्रों में स्‍वच्‍छता के कवरेज को बढ़ावा देकर दिनांक 02 अक्‍टूबर, 2019 तक स्वच्छ भारत के सपने को साकार करना।
  3. जागरूकता लाकर और स्वास्थ्य संबंधी शिक्षा के माध्‍यम से स्‍थायी स्‍वच्‍छता प्रक्रियाएँ और सुविधाएँ अपनाने के लिए समुदायों को प्रेरित करना।
  4. पारिस्थितिकीय रूप से सुरक्षित और स्‍थायी स्वच्छता के लिए लागत प्रभावी और उपयुक्त प्रौद्योगिकियों को बढ़ावा देना।
  5. ग्रामीण क्षेत्रों में संपूर्ण स्वच्छता लाने के लिए वैज्ञानिक ठोस एवं तरल अपशिष्ट पदार्थ प्रबंधन पर बल देते हुए समुदायिक प्रबंधित स्वच्छता प्रणालियों का आवश्‍यकतानुसार विकास करना।
  6. जेंडर पर महत्‍वपूर्ण सकारात्‍मक प्रभाव ड़ालना और विशेषकर सीमांत समुदायों में स्‍वच्‍छता का सुधार करके उन्‍हें समाज से जोड़ने को बढ़ावा देना।

अधिक जानकारी के लिए निम्न वेबसाईटों पर जायें :-

http://www.swachhbharaturban.in
http://swachhbharaturban.gov.in/
http://swachhbharatmission.gov.in

लाभार्थी:

समस्त भारतीय नागरिक

लाभ:

स्वस्थ नागरिक, बेहतर समाज, स्वच्छ वातावरण, इत्यादि

आवेदन कैसे करें

ऑनलाइन फॉर्म भरने की प्रक्रिया के लिए उपर्युक्त वेबसाइटों पर जाएं। आवेदन करने के लिए जनपद पंचायत कार्यालय या जिला पंचायत कार्यालय, भी जाया जा सकता है।